BSEB 75% Attendance Mandatory Rule: बिहार बोर्ड के स्कूलों में 75% उपस्थिति अनिवार्य, अभिभावकों को देना होगा शपथ पत्र

बिहार बोर्ड वार्षिक परीक्षा में छात्र और छात्राओं की उपस्थिति को लेकर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने सभी शिक्षण संस्थानों को पत्र जारी किया है। स्कूलों में अब BSEB 75% Attendance Mandatory Rule उपस्थिति अनिवार्य कर दी गई है, अब अभिभावकों को इस संबंध में शपथ पत्र देना होगा। शपथ पत्र का प्रारूप BSEB Patna द्वारा सभी माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों एवं इंटर कॉलेजों को भेज दिया गया है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

स्कूल प्रशासन छात्रों को शपथ पत्र की एक प्रति देगा, इसके बाद अभिभावक शपथ पत्र भरेंगे। इसमें अभिभावक को यह लिखना होगा कि मेरे बच्चे नियमित स्कूल जा रहे हैं। यदि विद्यालय में 75 प्रतिशत उपस्थिति नहीं हुई और बोर्ड परीक्षा से रोका गया तो इसके जिम्मेदार हम होंगे।

इसके साथ ही अभिभावक शपथ पत्र में कहेंगे कि Bihar School Examination Board | BSEB 75% Attendance Mandatory Rule के साथ-साथ अन्य प्रोत्साहन राशि भी रोक दी जायेगी। कोई अन्य छात्रवृत्ति उपलब्ध नहीं होगी, माता-पिता को बताना होगा कि उनके बच्चे हर दिन स्कूल जा रहे हैं। स्कूल में बच्चों की अनुपस्थिति के लिए अभिभावक जिम्मेदार होंगे।

BSEB 75% Attendance Mandatory Rule | 75 प्रतिशत उपस्थिति के बाद ही छात्र परीक्षा देंगे

Bihar Board ने सभी शैक्षणिक संस्थानों में न्यूनतम 75 फीसदी उपस्थिति की अनिवार्यता को लेकर पहले ही पत्र जारी कर दिया है। BSEB Bihar Board | BSEB 75% Attendance Mandatory Rule ने कहा है कि इंटर और मैट्रिक की वार्षिक परीक्षा में वही छात्र शामिल हो सकते हैं जिनकी उपस्थिति 75 फीसदी होगी।

राज्य सरकार की विभिन्न लाभार्थी आधारित योजनाओं का लाभ लेने के लिए राज्य के माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों के छात्रों के लिए कक्षा में 75 प्रतिशत उपस्थिति भी आवश्यक है।

BSEB Board द्वारा आयोजित वार्षिक इंटर और मैट्रिक की परीक्षा में वही छात्र-छात्राएं शामिल हो सकेंगे, जिनकी कक्षा नौवीं, 10वीं, 11वीं एवं 12वीं की कक्षाएं शिक्षण शुरू करने के दिन से उस महीने से पहले महीने की पहली तारीख तक, जिसमें स्कूल बोर्ड की परीक्षा शुरू होती है, की अवधि में कम-से-कम 75 प्रतिशत उपस्थिति हो।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

समिति ने सभी माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्तर के शैक्षणिक संस्थानों के प्रमुखों से अपने स्कूलों में छात्रों की अधिकतम उपस्थिति सुनिश्चित करने को कहा है। साथ ही सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को समीक्षा बैठक करने को कहा गया है, ताकि वे मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षा में शामिल होने से वंचित न रह जाएं। यदि छात्र एवं छात्राओं की उपस्थिति 75 प्रतिशत नहीं होगी तो उन्हें परीक्षा से वंचित कर दिया जायेगा।

परीक्षा में शामिल होने के लिए उपस्थिति अनिवार्य है

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले बिहार बोर्ड के सचिव ने निर्देश दिया था कि स्कूलों में 75 फीसदी उपस्थिति अनिवार्य है। वहीं, अब अभिभावकों को शपथ पत्र देना होगा और बच्चों के स्कूल न जाने का कारण अभिभावक ही होंगे।

इस निर्देश के बाद जिले के हाई और प्लस टू स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति पर सख्ती बढ़ा दी गयी है। अब जनवरी 2024 तक जिन बच्चों की उपस्थिति 75 प्रतिशत होगी वे Bihar Board 10th Exam 2024 और Bihar Board 12th Exam 2024 की परीक्षा में शामिल हो सकेंगे।

ये भी पढ़ें:  BSEB Matric Practical Admit Card: बिहार बोर्ड 10वीं प्रैक्टिकल परीक्षा का एडमिट कार्ड 2024 जारी, इस दिन होम सेंटर पर होगा एग्जाम

इससे पहले 75 प्रतिशत का नियम नहीं था लागू

मालूम हो कि साल 2022 तक परीक्षा में शामिल होने के लिए उपस्थिति अनिवार्य नहीं थी। लेकिन, अब परीक्षा में शामिल होने के लिए उपस्थिति अनिवार्य कर दी गई है, इससे पहले छात्रों को सिर्फ मैट्रिक और इंटरमीडिएट की सेंटअप परीक्षा में शामिल होना अनिवार्य था।

वहीं, अब नौवीं से 12वीं कक्षा तक स्कूल आना अनिवार्य हो गया है। जनवरी 2024 तक जिन बच्चों की उपस्थिति 75 फीसदी होगी वे मैट्रिक और इंटर की परीक्षा में शामिल होंगे। इसके लिए स्कूलों में हेडमास्टरों को आदेश जारी कर दिया गया है। सरकारी योजना का लाभ लेने के लिए भी 75 फीसदी उपस्थिति अनिवार्य कर दी गई है।

मुख्यमंत्री साइकिल योजना, मुख्यमंत्री पोशाक योजना, मुख्यमंत्री प्रोत्साहन योजना, मुख्यमंत्री किशोरी स्वास्थ्य योजना आदि के लाभ के लिए कक्षा नौ में 75 प्रतिशत उपस्थिति होना जरूरी है, इसे निर्देशों में जोड़ा गया है। एक माह पहले स्कूलों का निरीक्षण किया गया था। इस निरीक्षण के बाद दावा किया गया कि स्कूलों में बच्चों की उपस्थिति कम रहती है। बताया गया कि स्कूलों में 11वीं और 12वीं में 40 से 45 फीसदी विद्यार्थी नियमित रूप से स्कूल आते हैं, वहीं, अब 75 फीसदी उपस्थिति अनिवार्य है।

WhatsappTelegram
TwitterFacebook
Google NewsBSEB App

4 thoughts on “BSEB 75% Attendance Mandatory Rule: बिहार बोर्ड के स्कूलों में 75% उपस्थिति अनिवार्य, अभिभावकों को देना होगा शपथ पत्र”

  1. Dear sir,
    I am student of class 12th .I live in Patna for the preparation of JEE examina-
    tion and my college is in other district means my home district.If I shall go to my college for attendance then my studies will affected very hard . Then I will not perform very well in my JEE exam . So, please sir you can do anything for the students who live in other cities for the preparation of
    these types of examination. Please sir🥺.

    Reply
  2. Biharbord ke sarkari school mai padhai ki guarantee kun dega ?
    Na teacher hai na education hai age coaching na ho to students Ram bharose

    Reply

Leave a comment