बिहार बोर्ड ने मैट्रिक एवं इंटर के छात्रों के लिए बदली व्यवस्था, अब ऐसे होगी छात्रों की पहचान

Sponsored Links

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने अगले वर्ष वार्षिक परीक्षा 2023 से मैट्रिक कक्षा और इंटर कक्षा की परीक्षा में बैठने वाले अभ्यर्थियों के लिए यूनिक आईडी तैयार की है। अगले वर्ष 2023 से बिहार बोर्ड द्वारा परीक्षार्थियों को इसका आवंटन किया जाएगा। परीक्षा के दौरान, उम्मीदवारों को पंजीकरण के साथ विशिष्ट आईडी का उपयोग करना होगा, इससे छात्रों को आसानी से पहचाना जा सकता है।

बिहार बोर्ड द्वारा मैट्रिक कक्षा और इंटर कक्षा की परीक्षाओं में गड़बड़ी रोकने के लिए उचित कदम उठाए गए हैं, इसी दिशा में परीक्षा समिति ने यूनिक आईडी कार्ड जारी करने का निर्णय लिया है। ज्ञात हो कि अगले वर्ष बिहार बोर्ड वार्षिक परीक्षा 2023 में लगभग 30 लाख उम्मीदवार मैट्रिक और इंटर की परीक्षा में शामिल होंगे।

इन कारणों से बिहार बोर्ड के छात्रों को मिली यूनिक आईडी

मैट्रिक कक्षा और इंटर कक्षा वार्षिक परीक्षा 2023 के सभी परीक्षार्थियों की अब एक यूनिक आईडी से पहचान की जाएगी। परीक्षार्थी अपनी यूनिक आईडी से परीक्षा संबंधी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। इसके लिए बिहार बोर्ड ने इंटर और मैट्रिक के करीब 30 लाख छात्रों को यूनिक आईडी नंबर जारी किया है।

आपको बता दें की, ये 13 अंकों का यह यूनिक आईडी नंबर बोर्ड की ओर से रजिस्ट्रेशन नंबर फॉर्म के साथ जारी किया गया है। यानी इस समय से बिहार बोर्ड परीक्षा फॉर्म भरने में छात्रों को रजिस्ट्रेशन नंबर के अलावा यूनिक आईडी नंबर से भी भरा जा रहा है। इसके लिए बिहार बोर्ड ने अलग से कॉलम बनाया है। बिहार बोर्ड परीक्षा फॉर्म में रजिस्ट्रेशन नंबर के अलावा यूनिक आईडी का कॉलम अलग से दिया गया है। जो छात्र यूनिक आईडी नंबर नहीं भरेंगे, उनका परीक्षा फॉर्म रद्द कर दिया जाएगा।

इन कारणों से दिया गया यूनिक आईडी नंबर

  • एडमिट कार्ड नहीं बदला जा सकता।
  • छात्र अपनी यूनिक आईडी से आसानी से अपने सर्टिफिकेट और मार्कशीट ऑनलाइन निकाल सकेंगे।
  • रजिस्ट्रेशन नंबर भूल जाने पर भी आप यूनिक आईडी से मार्कशीट प्राप्त कर सकते हैं।
  • यूनिक आईडी से तुरंत होगी छात्र की पहचान।
  • परीक्षा केंद्र पर फर्जी छात्र को पकड़ना होगा आसान।

ज्ञात हो कि अब तक मैट्रिक क्लास और इंटरमीडिएट क्लास के अभ्यर्थियों की पहचान उनके रजिस्ट्रेशन नंबर से होती थी। परीक्षा फॉर्म भरने से पहले छात्र का पंजीकरण होता है। इसी रजिस्ट्रेशन नंबर पर छात्र परीक्षा फॉर्म भरते थे। ये दोनों नंबर अपने जिले के परीक्षार्थी और उनके स्कूल की पहचान करते थे, लेकिन अब रजिस्ट्रेशन नंबर के अलावा छात्र के पास एक यूनिक आईडी नंबर होगा। जिससे छात्र की पहचान इंटर कक्षा या मैट्रिक कक्षा के छात्र के रूप में होगी। यह यूनिक आईडी हर छात्र के लिए अलग होगी। यह जिलेवार नहीं किया जाता है, यह बिहार बोर्ड के छात्र होने की पहचान देगा।

उम्मीदवार को सभी जानकारी ई-मेल पर मिल जाएगी

बिहार बोर्ड द्वारा परीक्षा फॉर्म में मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी देना अनिवार्य कर दिया गया है। इसके बाद परीक्षा से संबंधित सभी जानकारी छात्रों को उनकी ईमेल आईडी पर भेजी जा सकती है। इसके साथ ही बिहार बोर्ड ने आधार नंबर देने को कहा है। जिन छात्रों के पास आधार नंबर नहीं है, वे भी फॉर्म भरने में यह जानकारी देंगे। वर्ष 2023 में इंटर और मैट्रिक परीक्षार्थियों की मार्कशीट और सर्टिफिकेट पर यूनिक आईडी भी होगी। इसके अलावा मार्कशीट और सर्टिफिकेट का गलत इस्तेमाल नहीं किया जाएगा।

ये भी पढ़ें:   ओएफएसएस दूसरी मेरिट लिस्ट के आधार पर 7 सितम्बर 2022 तक होगा नामांकन

12वीं परीक्षा फार्म भरने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी हैं

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इंटर क्लास परीक्षा फॉर्म भरने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। आपके जानकारी के लिए बता दें की, 15 सितम्बर 2022 से परीक्षा फॉर्म भरना भी शुरू हो गया है, जो 25 सितंबर 2022 तक चलेगा। अगले वर्ष 2023 की इंटर परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों का रजिस्ट्रेशन कार्ड जारी कर दिया गया है। इसके अलावा बोर्ड ने उम्मीदवारों का रजिस्ट्रेशन कार्ड भी जारी कर दिया है। उम्मीदवार अपना पंजीकरण कार्ड बोर्ड की वेबसाइट पर देख सकते हैं। परीक्षार्थियों को परीक्षा फार्म अंतर स्तरीय विद्यालयों एवं महाविद्यालयों के प्राचार्यों द्वारा उपलब्ध कराए जाएंगे। इस साल इंटर परीक्षा फॉर्म भरने की फीस 1400 रुपये निर्धारित की गई है।

10वीं परीक्षा फार्म भरने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी हैं

बिहार बोर्ड के तत्वावधान में गुरुवार से मैट्रिक परीक्षा फॉर्म भरने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। स्कूलों में मैट्रिक परीक्षा का फॉर्म 25 सितंबर 2022 तक ऑनलाइन भरा जाएगा। इसके लिए बिहार बोर्ड में जरूरी दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इस बार मैट्रिक परीक्षा फॉर्म 2023 भरने के लिए ₹865 शुल्क निर्धारित किया गया है। परीक्षा फॉर्म भरने के बाद सभी उम्मीदवारों को परीक्षा शुल्क का भुगतान करना होगा।

Telegram Facebook
Twitter Facebook Group
Google NewsApp Download

5 thoughts on “बिहार बोर्ड ने मैट्रिक एवं इंटर के छात्रों के लिए बदली व्यवस्था, अब ऐसे होगी छात्रों की पहचान”

  1. Muja Monday ko mile ga restion card par. Website par 1400 laga par college Bala le raha h 2500 rup bihar board kuch nahi kar raha h eya sab college ko kuch karo eya sab sala ko please 🙏 support Karo hum gareeb baccho ko

    Reply
  2. Mera registration form me school ke headmaster ki galti ke wajsh se name nahi aaya Kya kare please support me

    Reply

Leave a comment