बिहार बोर्ड इंटर कक्षा में 22 लाख से अधिक सीटों पर होगा एडमिशन, जल्द शुरू होगा नामांकन प्रक्रिया

बिहार बोर्ड 11वीं कक्षा में दाखिले की प्रक्रिया बहुत जल्द शुरू होने वाली है, इसके लिए ओएफएसएस के माध्यम से एक ऑनलाइन आवेदन पत्र जारी किया जाएगा और पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। इस साल इंटर फर्स्ट इयर्स में करीब 22 लाख सीटों पर छात्र प्रवेश लेने जा रहे हैं। बिहार बोर्ड के साथ-साथ सीबीएसई, सीआईएससीई और अन्य राज्य बोर्डों के छात्रों को भी मौका दिया जाएगा. इस बार मैट्रिक में 12 लाख 86 हजार 871 छात्र पास हुए हैं। इससे हर कॉलेज और स्कूल को नामांकन का मौका दिया जाएगा। छात्र भी आवेदन जारी होने का इंतजार कर रहे हैं।

इस साल बिहार बोर्ड दसवीं परीक्षा में पास हुए छात्रों की बात करें तो मैट्रिक 2022 में कुल 4,24,597 छात्र प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण हुए। जबकि 5,10,411 छात्र द्वितीय श्रेणी से उत्तीर्ण हुए। तृतीय श्रेणी से 3,47,637 छात्र पास हुए। इनमें उत्तीर्ण छात्रों की संख्या 6,78,110 और छात्राओं की संख्या 6,08,861 है। दो साल बाद 11वीं में सीटें बढ़ाई जा रही हैं। इससे पहले 2020 में दो लाख सीटों की बढ़ोतरी की गई थी। जबकि 2021 में सिर्फ 17 लाख दो हजार सीटों पर ही नामांकन हुआ था। अब इंटर एनरोलमेंट में पांच लाख से ज्यादा सीटें बढ़ेंगी।

6512 स्कूल-कॉलेजों में नामांकन का मिलेगा मौका

बिहार बोर्ड द्वारा लगभग हर दिन अपग्रेडेड हायर सेकेंडरी स्कूलों को स्कूल कोड के साथ सीटें आवंटित की जा रही हैं। अब तक अधिकांश स्कूलों को साइंस, आर्ट्स स्ट्रीम में 80-80 सीटें और कॉमर्स स्ट्रीम में 40 सीटें आवंटित की गई हैं। पटना जिले के 166 नव उन्नत विद्यालयों में इस बार 11वीं कक्षा शुरू होगी. सभी विद्यालयों में सहशिक्षा को मान्यता दी गई है।

इस बार इंटर में 6512 स्कूल-कॉलेजों का नामांकन होगा। वर्ष 2021 में 3564 स्कूल-कॉलेजों में नामांकन लिया गया था। 2020 में स्कूल योजना के तहत प्रत्येक पंचायत में 2948 नए स्कूलों में नौवीं और दसवीं की कक्षाएं शुरू की गईं। अब इन स्कूलों को इस साल 11वीं और 12वीं कक्षा के लिए मान्यता दी जा रही है। 11वीं के नामांकन के लिए छात्र छात्रों के लिए ऑनलाइन सुविधा प्रणाली पर स्कूलों का विकल्प चुन सकेंगे।

BSEB 11th Admission 2022

इस बार आवेदन ऑनलाइन माध्यम से लिया जाएगा और इसके आधार पर छात्रों को शॉर्टलिस्ट कर प्रवेश लिया जाएगा। इस बार बिहार बोर्ड से मैट्रिक पास करने वालों के अलावा सीबीएसई, सीआईसीई और अन्य राज्य बोर्डों के छात्रों को भी प्रवेश का मौका मिलेगा. बिहार बोर्ड के मुताबिक इस बार मैट्रिक में 12 लाख 86 हजार 871 छात्र पास हुए हैं।

नए सत्र से अपग्रेडेड स्कूल 11वीं कक्षा में भी प्रवेश लेंगे। इसके लिए इन सभी स्कूलों को OFSS पोर्टल से जोड़ा गया है। अपग्रेडेड स्कूलों में शिक्षा शुरू होने से प्लस टू स्कूलों की संख्या भी बढ़ेगी। 2021 में कक्षा 11 में 3664 प्लस टू स्कूल और कॉलेज में प्रवेश लिया गया। इस बार इसे बढ़ाकर करीब 6512 स्कूल-कॉलेज किया जाएगा।

ये भी पढ़ें:   तैयारी पूरी कल दोपहर में जारी होगा बिहार बोर्ड मैट्रिक रिजल्ट, ऐसे करे चेक

ग्यारवीं में अपग्रेडेड स्कूल में भी होगा एडमिशन

इस बार अपग्रेडेड स्कूल में भी इंटर कक्षा में प्रवेश लिया जाएगा। सभी अपग्रेड किए गए स्कूलों को ओएफएसएस पोर्टल पर डाल दिया गया है। प्लस टू स्कूलों की संख्या बढ़ाई जाएगी, आपके जानकारी के लिए बता दें की, पिछले वर्ष 2021 में 11वीं कक्षा में 3664 प्लस टू स्कूल-कॉलेजों में प्रवेश लिया गया था। इस साल करीब 6512 स्कूलों और कॉलेजों में प्रवेश लिया जाएगा। 11वीं कक्षा में स्ट्रीम चुनना थोड़ा आसान होगा क्योंकि आर्ट्स, कॉमर्स, साइंस स्ट्रीम की सीटें बढ़ा दी गई हैं।

सीबीएसई से 4 साल में 3.5 लाख बच्चे बिहार बोर्ड में शिफ्ट

आपको बता दें की, 2018 से चार साल में सीबीएसई के 3 लाख 4 हजार 405 बच्चे बिहार बोर्ड में शामिल हुए हैं, जबकि इस दौरान आईसीएसई के 69805 बच्चे बिहार बोर्ड में शामिल हुए हैं।

मैट्रिक के बाद पढ़ाई बीच में नहीं छोड़ेंगे बच्चे

अब छात्रों को अपने ही पंचायत स्कूल में 11वीं कक्षा में दाखिला लेने का मौका मिलेगा। अब मैट्रिक के बाद छात्र अपने गांव के स्कूल में इंटर में दाखिला ले सकेंगे, मैट्रिक के बाद अब उनकी पढ़ाई नहीं छूटेगी।

7 thoughts on “बिहार बोर्ड इंटर कक्षा में 22 लाख से अधिक सीटों पर होगा एडमिशन, जल्द शुरू होगा नामांकन प्रक्रिया”

    • जल्द ही बोर्ड द्वारा मार्कशीट करेक्शन करने की डेटशीट जारी करेगा।

      Reply

Leave a comment