बिहार बोर्ड 11वीं में नामांकन के लिए आवेदन शुरू, ओएफएसएस के तहत स्वीकार किए जाएंगे आवेदन

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इंटरमीडिएट में नामांकन की प्रतिक्रिया 20 जून 2022 से शुरू कर दी है। मैट्रिक उत्तीर्ण छात्र-छात्राएं 20 जून से 5 जुलाई 2022 तक आनलाइन फैसिलेशन सिस्टम फोर स्टूडेंट (OFSS) सिस्टम्स के साफ्टवेयर पर आवेदन कर सकते हैं।

बीएसईबी 11वीं कक्षा में इक्छुक छात्र 22 जून 2022 से 5 जुलाई 2022 तक अपने नजदीकी वसुधा केंद्र पर जाकर या मोबाइल फोन के जरिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आपको बता दें की, बिहार बोर्ड द्वारा 10वीं का रिजल्ट जारी होने के बाद से ही छात्र इंटर में दाखिले का इंतजार कर रहे थे। इस बार राज्य भर के 6405 स्कूल-कॉलेजों में कुल 18 लाख 27 हजार 870 सीटों पर नामांकन लिया जाएगा।

बिहार बोर्ड 11वीं (इंटर) प्रवेश 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

  • इसके लिए परीक्षार्थी को सबसे पहले OFSS के अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा, www.ofssbihar.in 2022.
  • इसके बाद Inter Admission के लिंक पर Click करना है।
  • फिर वहां पर पूछी गई सभी जानकारी को अच्छी तरह से भरकर विद्यालय/कॉलेज को चुनना होगा।
  • इसके बाद में जरूरी दस्तावेज कोई स्कैन कर फोटो एवं हस्ताक्षर को अपलोड कर देना है।
  • अंत में अपने कैटेगरी के अनुसार शुल्क का भुगतान कर SUBMIT कर दें।
  • आवेदन सफल होते ही उसका Print Out जरूर निकाल लें।
bseb-inter-2022-admission-today

18 लाख से अधिक सीटों पर होंगे प्रवेश

बता दें कि इस बार बिहार बोर्ड राज्य के 6405 स्कूलों और कॉलेजों में कुल 18 लाख 27 हजार 870 सीटों को भरने के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर रहा है। इसके लिए बिहार बोर्ड की ओर से जिलेवार स्कूल व कॉलेज की फैकल्टी वाइज सीटें पहले ही जारी कर दी गई हैं।

छात्र बड़े अक्षरों में भरें आवेदन फॉर्म

बिहार बोर्ड ग्यारवीं कक्षा में ऑनलाइन आवेदन करते समय छात्रों को फॉर्म बड़े अक्षरों में भरना होता है। इसके लिए जरूरी दस्तावेज जरूरी हैं। अधिकारियों ने बताया कि केवल एक आवेदन भरने के लिए एक मोबाइल नंबर और एक ई-मेल आईडी ईयर का इस्तेमाल किया जाएगा। ऑनलाइन करने पर बोर्ड को मोबाइल पर ओटीपी प्राप्त होगा। सॉफ्टवेयर पर ओटीपी को दोबारा अपलोड करने पर पासवर्ड जेनरेट हो जाएगा। संदर्भ प्रपत्र बाद में पासवर्ड से ही उत्पन्न होगा। फॉर्म भरने के लिए मैट्रिक पास की मार्कशीट, एडमिट कार्ड, बैंक पासबुक, आधार नंबर एक रंगीन फोटो सहित दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।

बिहार बोर्ड 11वीं नामांकन आवेदन शुल्क

OFSS 11वीं प्रवेश 2022 बिहार बोर्ड 11वीं नामांकन प्रक्रिया में इस बार कुछ बदलाव किए गए हैं। जो उम्मीदवार अपने ही स्कूल यानि जिस स्कूल से 10वीं पास किया है उसमें एडमिशन लेते हैं तो उन्हें आवेदन शुल्क नहीं देना होगा। लेकिन अगर छात्र अपने स्कूल / कॉलेज के अलावा किसी अन्य स्कूल / कॉलेज में दाखिला लेते हैं तो उन्हें आवेदन शुल्क का भुगतान करना होगा। इसके लिए सामान्य, ओबीसी, एससी, एसटी वर्ग के उम्मीदवारों के लिए ₹350 आवेदन शुल्क रखा गया है। आवेदन शुल्क का भुगतान केवल ऑनलाइन मोड में डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, नेट बैंकिंग, यूपीआई आदि के माध्यम से किया जाएगा।

ये भी पढ़ें:   बिहार बोर्ड इंटर में एडमिशन के लिए जारी की गई कॉमन प्रॉस्पेक्टस व कट ऑफ लिस्ट

यदि आप अपना स्कूल चुनते हैं तो नहीं देना होगा नामांकन शुल्क

मैट्रिक पास छात्रों को 11वीं कक्षा का नामांकन शुल्क नहीं देना होगा। इसे इसी सत्र से सभी स्कूलों में लागू कर दिया जाएगा। जो छात्र 2022 में परीक्षा में शामिल हुए थे या जो पिछले साल इंटर में प्रवेश नहीं ले पाए थे, उनका प्रवेश जल्द ही शुरू हो जाएगा। वहीं, एससी और एसटी छात्रों से ट्यूशन फीस और विकास शुल्क नहीं लिया जाएगा।

बिहार 11वीं प्रवेश 2022 के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • वैध ई-मेल आईडी
  • वैध मोबाइल नंबर
  • कक्षा 10 वीं पासिंग मार्कशीट
  • रोल कोड, रोल नंबर और जन्म तिथि
  • आधार संख्या
  • कास्ट सर्टिफिकेट
  • आय प्रमाण पत्र
  • तस्वीर की स्कैन
  • हस्ताक्षर की स्कैन

बिहार इंटर प्रवेश 2022 आवश्यक दस्तावेज

  • टीसी / एसएलसी (मूल)
  • इन्विटेशन लेटर डाउनलोड
  • 10वीं की मार्कशीट
  • प्रोविशनल प्रमाणपत्र
  • करैक्टर प्रमाण पत्र
  • कास्ट सर्टिफिकेट
  • आय प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज कलर फोटो
  • अन्य दस्तावेज (स्कूल के नियमों के अनुसार)

डीईओ संग्राम सिंह ने कहा

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा जारी निर्देशों का हवाला देते हुए डीईओ संग्राम सिंह ने कहा कि नामांकन फॉर्म भरने से पहले बच्चे विभिन्न इंटर कॉलेज और प्लस टू हाई स्कूल में पिछले साल के दाखिले के ओएफएसएस कट ऑफ मार्क्स जरूर जांच लें। इसके बाद प्राथमिकता के आधार पर तय करें कि वे किस संस्थान में अपना नाम दर्ज कराना चाहते हैं। नामांकन फॉर्म पर अनावश्यक रूप से विकल्प चुनने के बाद वे परेशानी में पड़ जाएंगे।

डीईओ संग्राम सिंह ने बताया कि मैट्रिक परीक्षा में कम अंक पाने वाले बच्चे आवेदन फॉर्म भरते समय पिछले वर्ष जारी सूची के कट ऑफ अंक की जांच अवश्य करनी चाहिए। बताया कि कभी-कभी छात्रों के माता-पिता कैफे में जाकर जल्दबाजी में आवेदन कर देते हैं। कैफे संचालकों ने मन ही मन फॉर्म पर अपनी पसंद का ठप्पा लगा दिया। बोर्ड ने प्रथम मेरिट सूची की सूची में नाम से अधिक अंक प्राप्त करने वाले बच्चों को शामिल किया है। इसके बाद कम अंक वाले व्यक्ति को दूसरी और तीसरी सूची में रखा जाता है।

यदि पहली सूची की सूची में नाम नहीं आता है, तो उन्हें दूसरी सूची के लिए ओएफएसएस पर अपडेट करना होगा। डीईओ संग्राम सिंह ने कहा कि सामान्य आवेदन पत्र पर बच्चे विकल्प के रूप में न्यूनतम 10 एवं अधिकतम 20 अन्तर्शिक्षा संस्थान का नाम दे सकते हैं। बोर्ड केवल एक फैकल्टी और एक कॉलेज के लिए सूची जारी करेगा। डीईओ ने कहा कि बच्चों को ऑनलाइन आवेदन करने पर 350 रुपये फीस के तौर पर देने होंगे, बिना शुल्क जमा किये नामांकन फार्म स्वीकार नहीं किया जायेगा।

जिला शिक्षा अधिकारी संग्राम सिंह ने बताया कि सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड ने अभी तक मैट्रिक का रिजल्ट घोषित नहीं किया है। रिजल्ट आने पर बिहार बोर्ड उन्हें पास हुए बच्चों की तरह मेरिट लिस्ट के आधार पर नामांकन करने का मौका देगा।

Telegram Facebook
Twitter Facebook Group
Google NewsApp Download

Leave a comment