सब्जी बेचने वाले का बेटा बना बिहार टॉपर, किया कॉमर्स में टॉप

बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड ने इंटरमीडिएट का रिजल्ट जारी कर दिया है। सब्जी बेचने वाले का बेटा बना बिहार टॉपर | बीएसईबी की वेबसाइट biharboardonline.bihar.gov.in पर रिजल्ट चेक कर सकते हैं। इस बार कुल 80.15 फीसदी छात्र पास हुए हैं। आर्ट्स में 79 फीसदी, साइंस में 79.81 फीसदी और कॉमर्स में 90.38 फीसदी छात्र पास हुए हैं। कॉमर्स स्ट्रीम में पटना के बीडी कॉलेज के छात्र अंकित कुमार ने टॉप किया है. अंकित को कुल 500 अंकों में से 473 (94.6%) अंक मिले हैं। अंकित के पिता सब्जी बेचते हैं। इस काम में अंकित भी अपने पिता की मदद करता है। इधर, इंटर का रिजल्ट आने के बाद अंकित के घर में जश्न का माहौल है. बाप फूले नहीं समा रहे हैं, मां मिठाई बांट रही हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बता दें कि 1 से 14 फरवरी तक आयोजित बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा में कुल 13.5 लाख छात्र शामिल हुए थे। सब्जी बेचने वाले का बेटा बना बिहार टॉपर, इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा परिणाम के बाद मैट्रिक वार्षिक परीक्षा परिणाम जारी किया जाएगा। इंटर का रिजल्ट शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी और अतिरिक्त मुख्य सचिव, शिक्षा विभाग संजय कुमार की मौजूदगी में जारी किया गया.

बिहार कॉमर्स का रिजल्ट यहां चेक करें | सब्जी बेचने वाले का बेटा बना बिहार टॉपर

बिहार बोर्ड हर साल 10वीं और 12वीं की परीक्षा के टॉपर्स को पुरस्कृत करता है। पिछले साल भी ज्ञान भवन में आयोजित मेरिट डे के मौके पर टॉपर्स को सम्मानित किया गया था. जिसमें विज्ञान, कला और वाणिज्य तीनों विधाओं में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को एक-एक लाख रुपये का पुरस्कार दिया गया।

द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को 75000 रुपये तथा तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को 50000 रुपये दिये गये। इसके अलावा अव्वल रहने वालों को प्रशस्ति पत्र, मेडल और लैपटॉप भी दिए गए। इस बार भी उम्मीद है कि बिहार बोर्ड के 12वीं के नतीजे घोषित होने के बाद शिक्षा मंत्री पुरस्कारों की घोषणा कर सकते हैं.

क्या है इंटरमीडिएट पासिंग मार्क्स

इंटरमीडिएट परीक्षा पास करने के लिए, छात्रों को थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों पेपरों में अलग-अलग न्यूनतम अंक हासिल करने होंगे। परीक्षा पास करने के लिए आपके पास कम से कम 33 फीसदी अंक होने जरूरी हैं। वहीं थ्योरी पेपर में कम से कम 30 फीसदी अंक लाना जरूरी है। यदि किसी छात्र को एक या दो विषयों में उत्तीर्ण अंक नहीं मिले हैं, तो उन्हें एक कंपार्टमेंटल परीक्षा देनी होगी, जिसके लिए बोर्ड उनके सुधार का एक और मौका देगा।

Learn more about :- Bihar Board Matriculation Maths exam canceled

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
ये भी पढ़ें:  BSEB Class 10th Exam Result 2024 Date: जल्द घोषित होने वाला है बिहार बोर्ड मैट्रिक रिजल्ट 2024 का डेट, मार्कशीट ऐसे कर पाएंगे डाउनलोड
WhatsappTelegram
TwitterFacebook
Google NewsBSEB App

Leave a comment