WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

BSEB 12 Exam: बिहार बोर्ड इंटर की परीक्षा 1 फरवरी 2024 से शुरू हो रही है, इस साल बच्चे जूते-मोजे पहनकर परीक्षा दे सकेंगे

बिहार बोर्ड की इंटरमीडिएट परीक्षा 1 फरवरी 2024 से शुरू होगी और 12 फरवरी 2024 तक चलेगी, Bihar School Examination Board अध्यक्ष आनंद किशोर ने यह आदेश जारी किया है। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने सभी डीईओ को पत्र जारी कर जूता-मोजा पहनने पर लगी रोक हटाने का आदेश दिया है।

BSEB Patna द्वारा जारी पत्र के अनुसार, चल रही शीतलहर के कारण छात्रों के हित को ध्यान में रखते हुए, उपरोक्त उल्लिखित निर्देशों को तत्काल रद्द किया जा रहा है, और इस वर्ष आयोजित होने वाली इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2024 में अपवाद के रूप में परीक्षार्थी परीक्षा कक्ष में जूते-मोजे पहनकर प्रवेश करने को अनुमति मिल गयी है।

इस संबंध में बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से एक नोटिस जारी किया गया है, भीषण ठंड को देखते हुए बीएसईबी ने फैसला लिया है कि अब परीक्षार्थी कड़ाके की ठंड में जूते-मोजे पहनकर परीक्षा दे सकेंगे।

What's In This Post?

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

अब जूता-मोजा पहनकर एग्जाम दे सकेंगे छात्र

बिहार बोर्ड परीक्षाएं 2024 कल से शुरू हो रही हैं, बिहार बोर्ड की 12वीं यानी इंटरमीडिएट की परीक्षा कल यानी 1 फरवरी 2024 से शुरू हो रही है। Bihar Board ने इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए दिशानिर्देश जारी कर दिए हैं।

जारी निर्देश के मुताबिक इस साल बिहार बोर्ड परीक्षा में छात्र जूता-मोजा पहनकर परीक्षा दे सकेंगे। पिछले साल बिहार बोर्ड ने इंटरमीडिएट और मैट्रिक परीक्षा में जूते-मोजे पहनकर बोर्ड परीक्षा देने पर रोक लगा दी थी। केवल चप्पल पहनने वाले छात्रों को ही परीक्षा केंद्र में प्रवेश की अनुमति दी गई। जो छात्र जूता-मोजा पहनकर आये थे, उन्हें जूता-मोजा उतारकर परीक्षा देनी पड़ी। बिहार बोर्ड के इस अजीब नियम ने पिछले साल खूब सुर्खियां बटोरी थीं। साथ ही लोगों ने बीएसईबी को काफी भला-बुरा भी कहा था क्योंकि सर्दी के महीनों में छात्रों के साथ इस तरह का व्यवहार करना ठीक नहीं था। हालांकि, इस बार बोर्ड ने छात्रों को राहत देते हुए परीक्षा केंद्र पर जूते-मोजे पहनकर आने की इजाजत दे दी है. सभी छात्रों को बोर्ड परीक्षा से आधा घंटा पहले पहुंचना होगा।

बिहार बोर्ड ने परीक्षा की पूरी तैयारी कर ली है. इस साल बिहार बोर्ड कक्षा 12वीं की परीक्षा राज्य भर के 1,523 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की जाएगी। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के मुताबिक, बिहार बोर्ड परीक्षा 2024 में 6,26,431 लड़कियां और 6,77,921 लड़के शामिल होंगे।

जानिए परीक्षा केंद्र पर आने के क्या हैं नियम

प्रथम पाली के अभ्यर्थी परीक्षा प्रारंभ होने के समय (09:30 पूर्वाह्न) से 30 मिनट पहले अर्थात 09:00 बजे पूर्वाह्न तक आएं तथा द्वितीय पाली के अभ्यर्थी द्वितीय पाली की परीक्षा प्रारंभ होने के समय (02:00 बजे) से आएं. 00 अपराह्न)। परीक्षा हॉल में प्रवेश की अनुमति केवल 30 मिनट पहले यानि दोपहर 01:30 बजे तक ही दी जाएगी, इसके बाद देर से आने वाले अभ्यर्थियों को परीक्षा हॉल में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

परीक्षा के पहले दिन पहली पाली में जीव विज्ञान और दर्शनशास्त्र की परीक्षा होगी, जिसमें शामिल होने के लिए राज्य में 4,62,425 अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म भरा है। दूसरी पाली में कला संकाय और वाणिज्य संकाय के छात्रों के लिए अर्थशास्त्र विषय की परीक्षा आयोजित की जाएगी, जिसमें शामिल होने के लिए कुल 89,691 अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन फॉर्म भरा है।

परीक्षा केंद्रों पर मोबाइल फोन या इलेक्ट्रॉनिक वस्तुओं का उपयोग प्रतिबंधित है

केंद्राधीक्षक को छोड़कर कोई भी अभ्यर्थी, वीक्षक एवं अन्य पदाधिकारी या कर्मी परीक्षा कक्ष में मोबाइल फोन नहीं लायेंगे। परीक्षा केंद्र में कैलकुलेटर, मोबाइल फोन, ब्लूटूथ, ईयरफोन या अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान आदि का उपयोग वर्जित है।

प्रथम पाली के अभ्यर्थी परीक्षा प्रारंभ होने के समय (09:30 पूर्वाह्न) से 30 मिनट पहले अर्थात 09:00 बजे पूर्वाह्न तक आएं तथा द्वितीय पाली के अभ्यर्थी द्वितीय पाली की परीक्षा प्रारंभ होने के समय (02:00 बजे) से आएं. 00 अपराह्न)। परीक्षा हॉल में प्रवेश की अनुमति केवल 30 मिनट पहले यानि दोपहर 01:30 बजे तक ही दी जाएगी. इसके बाद देर से आने वाले अभ्यर्थियों को परीक्षा हॉल में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

Leave a comment