Bihar Police Constable Exam 2023: बिहार पुलिस भर्ती 2023 के लिए 45 हजार एडमिट कार्ड जारी नहीं होंगे, ये है वजह

बिहार पुलिस में सिपाही भर्ती के लिए लिखित परीक्षा का पूरा शेड्यूल जारी कर दिया गया है। Bihar Police Constable Exam 2023 दो पालियों में ली जायेगी। 21 हजार 391 पदों के लिए निकाली जा रही इस भर्ती के लिए करीब 18 लाख आवेदन मिले हैं, अभ्यर्थियों को परीक्षा अवधि से एक घंटा पहले परीक्षा केंद्र पर पहुंचना होगा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

21 हजार 391 पदों के लिए करीब 18 लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। प्रत्येक तिथि पर लगभग छह लाख अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल होंगे। रजिस्ट्रेशन और आवेदन प्रक्रिया में त्रुटियों के कारण करीब 45 हजार अभ्यर्थियों के एडमिट कार्ड जारी नहीं किये जायेंगे

Central Selection Board (Constable Recruitment) की लिखित परीक्षा की पहली पाली सुबह 10:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक होगी, प्रथम पाली के सभी अभ्यर्थी सुबह 9:00 बजे से पहले निर्धारित सीटों पर बैठ जायेंगे। पर्षद के मुताबिक अधिकतर अभ्यर्थियों का परीक्षा केंद्र उनके गृह जिले में आवंटित किया गया है।

इसकी जानकारी वेबसाइट https://www.csbc.bih.nic.in/ पर अपलोड है। कदाचार रोकने के लिए केंद्रों पर सीसीटीवी, बायोमेट्रिक अटेंडेंस, जैमर और फोटोग्राफी की व्यवस्था होगी। कक्ष में बैठाने के बाद अभ्यर्थियों की फोटो खींची जायेगी, शारीरिक दक्षता परीक्षण एवं सत्यापन के दौरान फोटो एवं बायोमेट्रिक उपस्थिति का मिलान किया जायेगा।

अक्टूबर माह में होगी सिपाही भर्ती परीक्षा 2023 | Bihar Police Constable Exam 2023

Central Selection Board of Constable | Bihar Police Constable Exam 2023 ने बिहार पुलिस में सिपाही के 21 हजार 391 पदों पर भर्ती के लिए लिखित परीक्षा का शेड्यूल जारी कर दिया है। 1अक्टूबर 2023, 7 अक्टूबर 2023, और 15 अक्टूबर 2023 को दो पालियों में होने वाली लिखित परीक्षा के लिए अध्यक्ष डॉ. एसके सिंघल ने सभी जिला अधिकारियों को परीक्षा समन्वयक नामित करने के लिए पत्र लिखा है।

निर्धारित समय से दो घंटे पहले केंद्र में प्रवेश मिलेगा। पहली पाली की परीक्षा सुबह 10:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक और दूसरी पाली की परीक्षा दोपहर 3:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक होगी। पितृ पक्ष मेला के कारण गया में सेंटर नहीं बनाया गया है, यहां के अभ्यर्थियों का सेंटर आसपास के जिलों में होगा। 37 जिलों में 529 परीक्षा केंद्र निर्धारित किये गये हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

परीक्षा केंद्रों की सूची सभी डीएम को उपलब्ध करा दी गयी है। गड़बड़ी रोकने के लिए सीसीटीवी, बायोमेट्रिक अटेंडेंस, जैमर और फोटोग्राफी की व्यवस्था होगी। दोनों में अंतर पाए जाने पर संबंधित प्रत्याशी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जायेगी। बायोमेट्रिक अटेंडेंस में अभ्यर्थियों के एक से अधिक फिंगरप्रिंट लिए जाएंगे. केंद्र आवंटन करते समय यह ध्यान रखा गया है कि अभ्यर्थी का संबंधित शिक्षण संस्थान से कोई संबंध न हो। परीक्षा केंद्र में मोबाइल सहित डिजिटल उपकरण ले जाने वाले लोगों को प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी।

बिहार पुलिस बहाली के लिए 22 ट्रेनिंग सेंटर बढ़ाये गये

बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस (बी-सैप)- 01, पटना, बी-सैप-2, डिहरी, बी-सैप-3, बोधगया, बी-सैप-4, डुमरांव, बी-सैप-5, पटना, बी-सैप-6, मुजफ्फरपुर, बी-सैप-7, कटिहार, बी-सैप-8, बेगूसराय, बी-सैप-9, जमालपुर, बी-सैप-10, सिमलुतल्ला, बी-सैप-11, सिमुलतल्ला, बी-सैप-12, भीमनगर, सुपौल

ये भी पढ़ें:  BSEB Teacher Competency Test: नियोजित शिक्षकों को राज्य कर्मचारी का दर्जा पाने के लिए इतना अंक लाना जरूरी, Bihar Board ने जारी की गाइडलाइन

बी-सैप-13, दरभंगा, बी-सैप-14, पटना, बी-सैप-15, भीमनगर, सुपौल, बी-सैप-16, पटना, बी-सैप-17, बोधगया, बी-सैप-18, डुमरांव, बी-सैप-19, बेगूसराय, बी-सैप (महिला), सासाराम, बिहार स्वाभिमान विशेष सशस्त्र पुलिस, बगहा, अश्वारोही विशेष सशस्त्र पुलिस, आरा।

राज्य में बंपर पुलिस भर्ती के चलते ट्रेनिंग सेंटरों की संख्या छह गुना बढ़ा दी गई है। (Bihar Police Constable Exam 2023) अभी तक सिपाही से लेकर डीएसपी तक के लिए सिर्फ चार ट्रेनिंग सेंटर थे। लेकिन 75 हजार नए पुलिस पदों के सृजन और चरणबद्ध नियुक्ति को देखते हुए गृह विभाग ने 22 संस्थानों को अतिरिक्त प्रशिक्षण केंद्र के रूप में काम करने की मंजूरी दे दी है।

रिजर्व ब्रांच ने इसकी अधिसूचना भी जारी कर दी है। अब तक प्रशिक्षण का काम भागलपुर के नाथनगर सिपाही प्रशिक्षण केंद्र, जमुई के सिमुलतल्ला सिपाही प्रशिक्षण केंद्र, डुमरांव के सैन्य पुलिस प्रशिक्षण केंद्र और राजगीर के बिहार पुलिस अकादमी में ही हो रहा था। Bihar BAO Vacancy 2023

अब बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस (बी-सैप) के 22 संस्थान अतिरिक्त पुलिस प्रशिक्षण केंद्र के रूप में काम करेंगे। इनमें पटना, बोधगया, बेगुसराय, आरा समेत कई जिलों के सेंटर शामिल हैं। यहां नवनियुक्त पुलिस कर्मियों व पदाधिकारियों को बुनियादी प्रशिक्षण तो मिलेगा ही, इसके अलावा विशिष्ट प्रशिक्षण भी कराया जायेगा।

WhatsappTelegram
TwitterFacebook
Google NewsBSEB App

Leave a comment