ऊष्म व्यंजन किसे कहते हैं | Ushm Vyanjan Kise Kahte Hain

Advertisement
Advertisement

अगर आप ये जानने के लिए इक्छुक हैं की, ऊष्म व्यंजन किसे कहते हैं? Ushm Vyanjan Kya Hai? उष्म व्यंजन कितने प्रकार के होते हैं? तो आप एकदम सही पोस्ट पढ़ने जा रहे हैं। सबसे पहले ऊष्म व्यंजन पश्न का उत्तर जानने से पहले आप ये जानलें की, ऊष्म व्यंजन की परिभाषा क्या होती हैं।

Advertisement
Advertisement

आपको बता दें की, लेखन के मुताबिक व्यंजन की चार प्रकार होती हैं। स्पर्श, अन्तस्थ, ऊष्म और संयुक्त व्यंजन शामिल होते हैं।

यहाँ इस पोस्ट पर हम उष्म व्यंजन किसे कहते हैं? और वे कितने प्रकार के होते हैं, इसके बारे में विस्तार से चर्चा करने जा रहे हैं। यकीन मानिये यह पोस्ट आपके लिए बेहतर साबित होने वाला है। क्यूंकि इस पोस्ट के माध्यम से हम ऊष्म व्यंजन के सभी वर्णों के उदाहरण के साथ में बताने जा रहे हैं।

Ushm Vyanjan Kise Kahte Hain

अगर हम आपको सरल भाषा में बताएं तो, वे सभी वर्ण जिनके उच्चारण करने में मुँह / मुख से खास प्रकार की ऊष्मा अर्थात कि, गर्म वायु / हवा निकलती हैं, उनको ऊष्म व्यंजन कहा जाता हैं. इतना ही नहीं इनके उच्चारण करते वक़्त साँस / श्वात लेने की प्रबलता होती हैं।

जैसा की आपको पता ही हैं की,व्यंजन को मूल रूप से तीन भेद होते हैं। जिसमें से स्पर्श व्यंजन,अन्तस्थ व्यंजन एवं ऊष्म व्यंजन शामिल हैं, जिसके बारे में हम इस पोस्ट में चर्चा कर रहे हैं।

उष्म व्यंजन की परिभाषा: वो सभी वर्ण जिनके उच्चारण करते वक़्त, हमारे मुख / मुँह से ऊष्म अर्थात वायु बाहर की ओर निकलता है, उन सभी वर्णों को उष्म व्यंजन कहा जाता हैं।

अब हम आपके मुख्य प्रश्न अर्थात ऊष्म व्यंजन कितने होते हैं? का उत्तर देने जा रहे हैं। हम बता दें की, हिंदी वर्णमाला में कुल 4 वर्णों को ऊष्म व्यंजन के रूप में माना जाता है। जो की निम्नलिखित हैं, जैसे; स ,श ,ष और । इन सभी चारों वर्णों के उच्चारण करते वक़्त मुँह से गर्म हवा बाहर की ओर निकालता है।

Note: आपको ये भी पता होना चाहिए की, ऊष्म व्यंजन को संघर्षी व्यंजन भी बोला जाता हैं।

ऊष्म व्यंजन के उदाहरण क्या हैं

Sha
Sha
Sa
Ha

हिंदी वर्णमाला में पुरे 4 ऊष्म व्यंजन शामिल होते हैं, जो निम्नलिखित आपको ऊपर दिए गए हैं। साथ में ही हिंदी के साथ अंग्रेजी के उच्चारण दे दिए गए हैं।

hindi varnamala varnamala in hindi vyanjan in hindi | varn kise kahate hain hindi swar and vyanjan vyanjan kitne hote hain स्वर किसे कहते हैं हिंदी वर्णमाला चार्ट pdf hindi varnamala worksheets ushma vyanjan

उष्म व्यंजन के उदाहरण और उनके उच्चारण

  • श (तालव्य) 
    • उदाहरण — शंकालु, शंक।
    • उच्चारण स्थान — तालु।
  • ष (मूर्धन्य) 
    • उदाहरण — षष्ठ, षड्यंत्र।
    • उच्चारण स्थान — तालु का मूर्धा भाग।
  • ह (स्वरयंत्रीय) 
    • उदाहरण — हाथी, हार।
    • उच्चारण स्थान — स्वरयंत्र।
  • स (वर्त्स्य) 
    • उदाहरण — साथ, सबा।
    • उच्चारण स्थान — दंतमूल।

ऊष्म व्यंजन क्या हैं — उष्म व्यंजन

जैसे की, इसके नाम से ही आभास हो रहा हैं की, उष्म का अर्थ है — गर्म होता हैं। अर्थात की वो सभी व्यंजन जिनके उच्चारण करते वक़्त मुख अथवा मुँह से निकलने वाली हवा के मार्ग में गर्म वायु अथवा रगड़ उत्तपन होती हो, उनको ऊष्म व्यंजन कहा जाता हैं। यह वायु उच्चारण करते वक़्त मुख के आंतरिक स्थानों/भागों से टक्करा कर उच्चारण में गर्म वायु का आभास कराती है।

उष्म व्यंजन कितने होते हैं

जैसा की, हमने आपको अभी ऊपर बताया की, उष्म व्यंजन में कुल संख्या चार होती है, जिसमें से एक “स” वर्ण होता हैं, दूसरा “श” वर्ण होता हैं, तीसरा “ष” वर्ण होता हैं, और चौथा “ह” वर्ण होता हैं।

sware संयुक्त व्यंजन किसे कहते हैं स्पर्श व्यंजन कौन-कौन से हैं | hindi varnamala akshar ucharan sthan hindi varnamala chart pdf ऊष्म व्यंजन के दो उदाहरण अंतस्थ व्यंजन कितने होते हैं, स्वर व्यंजन संयुक्त व्यंजन कौन से हैं

Last Word:

तो मेरे प्यारे दोस्तों, हमें पूर्ण आशा हैं कि, इस पोस्ट को अंत तक पढ़ने के पश्चात आप समझ गए होंगे कि, उष्म व्यंजन किसे कहते हैं? Usm Vyanjan Kya Hai? उष्म व्यंजन की संख्या कितनी होती हैं? Ushm Vyanjan Kitne Hain?

इसके अलावे भी अगर आपको इसे समझने में कोई समस्या आ रही हैं, या आपके पास Ushma Vyanjan से संबंधित कोई प्रश्न है, तो आप निचे कमेंटबॉक्स में कमेंट्स के माध्यम से हमसे अपना प्रश्न अथवा सुझाव पूछ सकते हैं। हमारी टीम हमेशा आपके प्रश्न के उत्तर देने के लिए तैयार रहती हैं, और अगर आपको हमारा ये पोस्ट पसंद आया हो, तो कृपया इस पोस्ट को अपने दोस्तों एवं परिजनों के साथ अवश्य ही शेयर करें – धन्यवाद

Advertisement
Advertisement
Telegram Facebook
Twitter Facebook Group
Google NewsApp Download

Leave a comment