Ka Kha Ga Gha | क ख ग घ — क से ज्ञ तक शब्द

हिंदी हमारी मातृभाषा है, और हमारी इस मातृभाषा की शुरुआत हिंदी में Ka Kha Ga Gha (क, ख, ग, घ, ङ) हिंदी वर्णमाला से होती है। अब भी हमें किसी अखबार या किताब को पढ़ना हो या कुछ लिखना हो तब हमें देवनागरी हिंदी वर्णमाला की जरूरत होती है।

हिंदी वर्णमाला के ज्ञान के बिना, हम हिंदी में ना कुछ पढ़ सकते हैं ना ही कुछ लिख सकते हैं। इसलिए, आज की इस पोस्ट में हम हिंदी वर्णमाला के बारे में विस्तार से जानेंगे।

अगर आप इंटरनेट पर क ख ग घ हिंदी में, या Ka Kha Ga Gha English में जानने के लिए इक्छुक हैं, तो आप एकदम सही पोस्ट पर पहुंच चुके हैं। इस पोस्ट में हम आपको क, के बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं, ताकि छात्र बड़ी ही आसानी से क ख ग घ (Ka Kha Ga In Hindi) में एवं अंग्रेजी में सीख / याद कर सकें, कृपया पूरा पोस्ट ध्यानपूर्वक पढ़ें।

क ख ग घ हिंदी वर्णमाला क्या होता है?

यदि हिंदी वर्णमाला को सरल शब्दों में समझा जाता है, तो वर्ण या अक्षरों का समूह वर्णमाला के रूप में जाना जाता है। वर्णमाला दो शब्दों से बना है। जिसमें चरित्र का अर्थ साउंड और माला का अर्थ है, यह कहा जा सकता है कि ध्वनि के समूह को वर्णमाला कहा जाता है।

छात्रों को टीचर सबसे पहले हिंदी वर्णमाला (क ख ग घ) का ज्ञान देते हैं, जो हम भी आज यहाँ वर्णमाला (Ka Kha Ga In Hindi) के बारे में विस्तार से जानने की प्रयत्न करेंगे।

Ka Kha Ga Gha In Hindi
Ka Kha Ga Gha In Hindi

जब बच्चे पुस्तक पढ़ने शुरू कर रहे हैं, तो वे कुछ मूल भाषा के ज्ञान हैं, ताकि बच्चे आसानी से उस शब्द को पढ़ सकें और समझ सकें कि यह क्या लिखा गया है। छात्रों को को Ka Kha Ga Gha (क से ज्ञ तक) शब्दों को याद करवाया जाता हैं, की कौन सा वर्ण कैसा दिखता है, उसका उच्चारण कैसे होता है।

ताकि इन वर्णों को जब संयोजन से कोई शब्द का निर्माण किया गया हो तो छात्र बड़ी ही आसानी से उस शब्द को एक एक वर्ण का उच्चारण करके बोल सके और साथ ही सामने क्या लिखा अथवा बोल रहा हैं, उन शब्दों को समझ सकें।

हम आपको इस आर्टिकल में प्रत्येक वर्ण को याद करवाने के लिए एक ऐसा शब्द/वाक्य का उदाहरण देंगे, जिससे आपके छोटे बच्चे मन से उसे सिख सके, जैसे की क से कबूतर, ख से खरगोश इत्यादि।

Ka Kha Ga In Hindi | क से ज्ञ तक

 हिन्दी वर्ण माला शब्दउदाहरण
कबूतर
खरगोश
गाय
घडी
चम्मच
छाता
जहाज
झंडा
टमाटर
ठठेरा
डलिया
ढक्कन
तरबूज
थरमस
दवा
धनुष
नल
पतंग
फल
बकरी
भालू
मछली
यग
रस्सी
लट्टू
वन
शरगम
षट्कोण
सेब
हल
क्षक्षेत्र
त्रत्रिशूल
ज्ञज्ञान

आज के इस पोस्ट में आप हिंदी और अंग्रेजी भाषा में Ka Kha Ga Gha (क से ज्ञ तक) और और बारहखडी में लिखना और पढ़ना उसके ध्वनि के अनुसार सिखेंगे।

Check This:  How Many Letters In Hindi Alphabets | Hindi Varnamala Words

बारहखडी सिखने एवं समझने के लिए इस आर्टिकल को आप पूरा जरूर पढ़िए, ताकि आपको बड़ी ही आसानी से पूरा समझ आ सकें।

अंग्रेजी में अगर कुछ भी लिखना हैं, तो आपको इसका ध्यान होना बहुत जरुरी हैं की, यदि आपको कोई भी नाम (जगह, वस्तु, या किसी व्यक्ति) लिखना हैं। तो आपको इसका ध्यान होगा तभी आप लिख सकते। हम आपको बता दें की, यह अंग्रेजी सिखने का सबसे शुरूआती स्टेज हैं।

स्वर वर्ण और व्यंजन वर्ण क्या हैं?

जैसा की, आपने ऊपर k kha ga in hindi यानी क ख ग घ ङ के बारे में विस्तार से जाना, अब हम आपको हिंदी वर्ण माला के सबसे महत्पूर्ण स्वर और व्यंजन के बारे में बताने जा रहे हैं। आइये सबसे पहले हम जानते है स्वर किसे कहते है? और व्यंजन किसे कहते है?

हिंदी वर्णमाला दो प्रकार के होते हैं

  1. स्वर (Vowel)
  2. व्यंजन (Consonant)

स्वर वर्ण कितने होते हैं?

अंअः
AAAIEEUOORIEAIOAUAANAAH
अनारआमइमलीईखउल्लूऊनॠषीएकऐनकओखलीऔरतअंगूरअःह
Ka Kha Ga In Hindi | क ख ग घ
Ka Kha Ga In Hindi | क ख ग घ

स्वर वर्ण क्या होता है?

  • यदि यह सरल शब्दों में कहा जाता है, तो इसे बिना किसी हवा एवं अन्य प्रकार की रुकावट या बाधा के पात्रों को आवाज कहा जाता है।
  • स्वर का उच्चारण बिना किसी अन्य वर्णों की मदद के भी बोला जा जाता है। अगर उदाहरण दें तो, जैसे: “अ” एक स्वर हैं, और इस शब्द का उच्चारण करने में अSSअ यानी शुरू से अंत तक मात्र “अ” की आवाज ही सुनाई देती हैं। इसलिए ये एक स्वर (Vowel) है।
  • लेकिन जब हम “क” वर्ण को बोलते है, तो कSSअ, तब शुरू तो “क” वर्ण से होती हैं, लेकिन आखिर में “अ” वर्ण से ख़त्म होती हैं। अत: यह “क” स्वर वर्ण नहीं, बल्कि व्यंजन वर्ण होता है। यानि की, भले ही “क” स्वतंत्र वर्ण लगता हैं, लेकिन इसमें “अ” का समावेश होता हैं।
  • स्वर के उदहारण; अ, आ, इ, ई, उ, ऊ, ऋ, ए, ऐ, ओ, औ, अं और अः।

व्यंजन वर्ण कितने होते हैं? (Ka Kha Ga In Hindi)

KKHGGHNG
CHCHHJAJHANY
TTHDDHNA
TTHDDHNA
PPHBBHM
YRLVSH
SHSH

व्यंजन वर्ण क्या होता है?

  • वो सभी वर्ण जिनके बोलते वक़्त कंठ, तालू,और श्वात की मदद लिए बाहर निकलती है, उन वर्णों को व्यंजन कहा जाता है।
  • व्यंजन वर्णों का उच्चारण बिना किसी स्वर वर्णों की सहायता लिए, नहीं बोला जा सकता है। जैसे की; जब हम “ब” का उच्चारण करते है तो “बSSअ” इसे बोलते वक़्त शुरु तो “ब” वर्ण से होती है परन्तु खत्म “अ” वर्ण से होती है। अत: यह “ब” एक व्यंजन का उदहारण है।

व्यंजन के उदहारण

  • क वर्ग: क, ख, ग, घ, डं
  • च वर्ग: च, छ, ज, झ, ञ
  • ट वर्ग: ट, ठ, ड, ढ, ण, ड़, ढ़
  • त वर्ग: त, थ, द, ध, न
  • प वर्ग: प, फ, ब, भ, म
  • अंतः स्थल वर्ग: य, र, ल, व
  • उष्म वर्ग: श, ष, स, ह
  • संयुक्त वर्ग: क्ष, त्र, ज्ञ, श्र
  • गृहीत वर्ग: ज़, फ़, ऑ
Check This:  Hindi Varnamala In Hindi | Varnmala Kise Kahate Kain

Leave a comment